जोड़ो के दर्द ( Joint Pain Treatment ) का बेमिसाल इलाज

 

जोड़ो के दर्द ( Joint Pain Treatment )  का घरेलू इलाज  :- 

जोड़ो के दर्द का बेमिसाल इलाज किसी ने भी नही बताया होगा।


                  जोड़ो का दर्द (joint pain) आज कल  75 प्रतिशत लोगो मे है जिससे उनको चला भी नही जाता किसी किसी को तो उठना बैठना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में कभी कभी लोग परेशान होकर कई जगह दवाई लेने जाते है।पर कोई फायदा नही होता। कोई कहते है ग्रीस खत्म हो जाता है इसीलिए जोड़ो में दर्द (joint pain) रहता है। कुछ प्रतिशत यह सच माना गया है। पर आज हम आपको बताएंगे के किस जड़ी बूटियों से या किस पौधे से जोड़ो के दर्द (joint pain Treatment) पर इलाज किया जाता है। जिससे सिर्फ और सिर्फ 22 दिनों में जोड़ो के दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है। तो चलिए खास बात पे चलते है।


               सबसे पहले तो आप के किस जोड़ो में ज्यादा तखलिफ है। वो चेक करिये। ज्यादा  तर घुटनो में ही (knee pain) दर्द रहता है। पर किसी किसी को कंधे में तो किसीको कलाई में दर्द रहता है।जिन्हें घुटनो में दर्द है उनके लिए नीचे कुछ घरेलू नुस्खे हम दे रहे है। जो बहुत ही असरदार है।


  1. ) धतूरे का पंचांग लेकर उसको पीस ले उसमे 1 लीटर पानी डाले साथ ही साथ 100 मिली तिल का तेल डालकर पानी खत्म होने तक पकाएं जब शेष तेल ही बचे तक किसी कपड़े के सहारे उसको छान लें और एक कांच के बोतल में भरकर रख ले अब इस तेल से दिन में एक बार घुटनो की मालिश करे ऐसा 22 दिन करेंगे तो आपके घुटनो का दर्द दूर हो जाएगा। सिर्फ ध्यान रखे के धतूरा एक विषैला पौधा है। तो इसके किसी भी पार्ट को मुह में ना जाने दे। 
  2. जोड़ो के दर्द (joint pain) के लिए दूसरा उपाय जो बाबत ही सरल है। आक का पत्ता एक भी जोड़ो के दर्द में बहुत काम आता है। आपको सिर्फ आक का पत्ता लाना है उसके ऊपरी भाग पर तिल का तेल लगाना है। और उसको थोड़ा गर्म करना है। अब जहा दर्द है वहा इस पत्ते को बांध देना है। पर ध्यान रहे पत्ता बंधाते वक्त वो थोड़ा गर्म हो। इसे आपको 3 से 4 घंटे तक बांधे रखना है। आक का पत्ता इस तरह किसी भी जगह जहा दर्द हो वहां बांध सकते है। इस पत्ते से पेट का दर्द भी कम हो जाता है। जी बच्चो को अस्थमा की शिकायत है। जिनका पेट फूल जाता है। उनके लिए भी यह पौधे के पत्ते का प्रयोग पेट पे कर सकते है। 
      ध्यान रखे के दोनों पौधे विषैले है। 
प्रयोग करते वक्त बच्चोको दूर रखें। और खुद भी बचकर इस्तेमाल करे

और भी कुछ पूछना हो तो आप कमेंट कर सकते है। आपकी पूरी सहायता की जाएगी।


धन्यवाद

Post a Comment

0 Comments